Free Astrology, Astrology Today

Vrischik Rashi 2020 Ka Rashifal In Hindi

वृश्चिक राशि वालों के लिए साल 2020 बेहतरीन परिणाम देने वाला रहेगा। विदेश में संभावनाएं तलाश रहे जातकों के लिये बहुत ही शुभ समय रहने के आसार हैं। विदेश यात्रा या विदेश में जॉब के लिए सितारे संकेत कर रहे हैं। अप्रैल में आपके सामने एक साथ कई मुश्किलें आ सकती हैं, इसलिये व्यवहार से लेकर व्यापार तक हर मामले में आपको सावधानी रखनी है। दरअसल, इस समय बुध व शनि देव दोनों ही वक्री होंगे। इस समय हो सकता है, आप अपने काम या स्थान के परिवर्तन का भी मन बना लें। शनि के वक्री होने से आपको लक्ष्यों तक पहुंचने के लिये बहुत अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। राशि स्वामी के वक्री होने से भी आप निर्णयों को लेने में हिचकिचा सकते हैं या फिर असमंजस की स्थिति पैदा हो सकती है। यदि आप इस समय सोच-विचार कर सही निर्णय लेते हैं तो यह आपके लिए लाभकारी भी हो सकता है। आपके लिए सलाह है कि वक्री शनि व बुध के नकारात्मक प्रभावों से बचने के उपाय जानने के लिये विद्वान ज्योतिषाचार्यों से परामर्श अवश्य कर लें। कड़ी मेहनत करते रहे तो सितंबर में राहु-केतू के परिवर्तन के साथ ही आपको सचेत रहना होगा। इस समय आपको धन की हानि हो सकती है, कार्यक्षेत्र में प्रतिस्पर्धी या इर्ष्यालु आपको नुक्सान पहुंचाने का प्रयास भी कर सकते हैं। यदि आप शिक्षार्थि है और पढ़ाई-लिखाई से संबंधित कोई कोर्स करना चाह रहे हैं या कर रहे हैं तो आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। मानसिक अशांति तथा तनावपूर्ण परिस्थितियों के कारण आपकी मंजिल प्राप्ति में बाधा उत्पन्न हो सकती हैं।

नौकरी

नौकरी के मामले में बहसों में न उलझें अन्यथा आप मालिकों अथवा वरिष्ठ अधिकारियों के रोष के भाजन हो सकते हैं। कोशिश करें कि अपना काम सलीके से करें। विपरीत परिस्थितियों को बुद्धिमता से निबटाएं। यदि आप ऐसा करते हैं तो केतू का गोचर महत्त्वपूर्ण व्यक्तियों से जोडने में आपकी मदद करेगा।

व्यापार

बृहस्पति का गोचर विदेशियों या सुदूर स्थलों पर रहने वाले लोगों से आपके व्यवसायिक संबंधों को मजबूत कराएगा। आप किसी नए काम की शुरुआत भी कर सकते हैं। लेकिन अन्य महत्त्वपूर्ण ग्रहों जैसे शनि और राहु का गोचर अनुकूल न होने से कुछ काम बिगड़ भी सकते हैं।

परिवार

प्रथम भाव में स्थित बृहस्पति के कारण आप अपने पारिवारिक मामलों को लेकर बहुत प्रसन्न रहेंगे। घर परिवाज में कोई शुभ और श्रेष्ठ संस्कार होने के योग भी बन रहे हैं। कोई मांगलिक कार्य या उत्सव सम्पन्न होने की सम्भावना है। घर परिवार का माहौल भी संतोषप्रद रहेगा। लेकिन किन्हीं कार्यों के कारण अथवा यात्राओं के कारण आपको अपने परिवार से दूर रहना पड़ेगा।

सेहत

इस वर्ष कुछ विषम परिस्थियों से भी सामना हो सकता है, ऐसे में विपरीत परिस्थितियों को बुद्धिमता से झेलने का विश्वास अपने अन्दर पैदा करें अन्यथा स्वास्थ्य बिगड सकता है।

प्रेम और दाम्पत्य

दाम्प्त्य प्रसंगों के लिए वर्ष का पहला भाग अधिक अनुकूल नहीं है। आपकी जिद संबंधों में दरार का कारण बन सकती है। आपको जीवनसाथी के मामले में सावधानी से काम लेने की जरूरत है, साथ ही अपनी और प्रतिष्ठा को ध्यान में रखना भी जरूरी है।

धन-संपत्ति

आप किसी धार्मिक कार्य में खर्चे कर सकते हैं। परिवार के सदस्यों और अन्य लोगों के हित में भी आप खर्च करेंगे। इन सबके बावजूद किसी माध्यम से आपका पैसा खो सकता है। अत: कोई जोखिम भरा निवेश करने से बचें साथ ही पैसों की सुरक्षा को लेकर चिंतन करें।

उपाय

  1. शराब और मांस का सेवन न करें।
  2. केसर का तिलक लगाएं।
  3. मंगल मंत्र "ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम:" का जप करें।

Buy Gemstone
Best quality Gemstones with assurance !
Buy Yantra
Take advantage of Yantra with assurance !
Buy Rudraksh
Best quality Rudraksh with assurance !
Buy Astro Products
Best quality Astrological Products with assurance !